सड़क एवं वाहन दूर्घटना होने की सूचना टोल फ्री नम्बर 1073 पर दें

14

परिवहन विभाग हरियाणा द्वारा निर्धारित गति सीमा से अधिक गति पर वाहन के पकड़े जाने पर जुर्माना किया जाएगा
यमुनानगर। जिलाधीश आमना तस्नीम ने वाहन चालकों का आह्वान किया है कि वे सरकार द्वारा वाहनों की निर्धारित गति सीमा के अनुसार ही अपने वाहन चलाए। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की कि किसी भी सड़क एवं वाहन दूर्घटना होने की सूचना टोल फ्री नम्बर 1073 पर दें। जिलाधीश ने बताया कि परिवहन विभाग हरियाणा द्वारा निर्धारित गति सीमा से अधिक गति पर वाहन के पकड़े जाने पर जुर्माना किया जाएगा तथा मोटर वाहन अधिनियम, 1988 की धारा 19 एवं केन्द्रीय मोटर यान अधिनियम 1989 की धारा 21 तथा भारत के माननीय सर्वोच्चय न्यायालय के निर्देशानुसार संबंधित वाहन चालक का ड्राईविंग लाईसैंस कम से कम तीन माह के लिए निलम्बित किया जा सकता है। उन्होंने स्पष्ट किया कि *तेज रफतार से गाड़ी, मौत की तैयारी* की लोकोक्ति को ध्यान में रखते हुए जरूरी है कि निर्धारित गति सीमा से अधिक गति पर वाहन चलाने से वाहन का नुकसान तो होता ही है, साथ ही जानें भी जा सकती है। उन्होंने कहा कि भारत में प्रतिवर्ष अनुमानित: 5 लाख सड़क दुर्घटनाए होती है, जिनमें से लगभग दो लाख सड़क दुर्घटनाए तेज रफतार के कारण होती है और लगभग एक लाख 40 हजार लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है। आमना तस्नीम ने आगे बताया कि निर्धारित गति सीमा से अधिक गति से वाहन चलाना मोटर वाहन अधिनियम 1988 की धारा 183 के तहत दण्डनीय अपराध है। अत: हर वाहन चालक निर्धारित गति में ही अपने वाहन चलाएं ताकि सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लग सके व जानमाल की हानि को रोका जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here