27 वां शास्त्रीय संगीत समारोह का हुआ सफलता पूर्वक समापन विजेताओं को दी गई 1 लाख 72 हजार रुपय की नकद राशि

13

यमुनानगर। आज के युग में भौतिक सुख-साधन तो हैं, किन्तु शांति नहीं है। विश्वास संगीत समिति इसी उद्देश्य को लेकर सामाजिक बुराईयों, कुरीतियों तथा नाकारात्मक विचारों से समाज को किस प्रकार बाहर निकाला जा सके, जिससे शांति प्राप्त हो सके, निरंतर प्रयासरत है। इसी श्रंखला में संगीत से साधना की ओर विषय को लेकर उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र पटियाला व हरियाणा कला परिषण के तत्वधान में पंचायत भवन के सभागार में विश्वास संगीत समिति के सहयोग से तीन दिवसीय प्रतियोगिता के बाद चौथे दिन ब्रह्मनाद 27 वां शास्त्रीय संगीत समारोह 2019 का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ संस्था के विद्यार्थियों ने सरस्वती वंदना की प्रस्तुति से किया। संपूर्ण कार्यक्रम की अध्यक्षता समिति के संयोजक विमल कश्यप व जितेन्द्र राय भोगल ने की तथा संचालन डा. अंबिका कश्यप, गीता शार्मा व डा. इंदू गर्ग ने बखूबी निभाया। विमल कश्यप ने जानकारी देते हुये बताया कि यह संस्था द्वारा 27 वां कार्यक्रम सफलता पूर्वक सम्‍पन्न हुआ है। उन्होंने आगे बताया कि कार्यक्रम में कुल 86 प्रतिभागियों ने भाग लिया, और संस्था द्वारा 1 लाख 72 हजार रुपये की नकद राशि पुरुस्कार के रूप में विजेताओं को वितरित की गई। उन्होंने आगे बताया कि इस कार्यक्रम में गायन, तंत्रवाद्य, तालवाद्य, सुगम संगीत व नृत्य पांच विधाओं की प्रतियोगितायें कराई गई। सभी विधाओं में प्रथम आने वाले प्रतिभागियों को 11 हजार रुपये की नकद राशि पुरुस्कार के रूप में दी गई। इसके अतिरिक्त एक विशेष आवार्ड प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया, जिसमें सभी विधाओं के विजेता प्रतिभागियों ने प्रदर्शन करके अवार्ड प्राप्त किया। डा. अंबिका ने बताया कि संमिति के जिले में विश्व वियात कालाकारों को विभिन्न क्षेत्रों से आमंत्रित किया गया, जिससे जिले में शास्त्रीय संगीत का प्रचार प्रसार विधिवत किया जा सके, और नवोदित कलाकारों को अवसर देकर प्रेरित किया जा सके। उन्होंने बताया कि पूर्ण कार्यक्रम के दौरान निर्णायक मण्डल के रूप में पं. सुशील जैन, मिलन देबनाथ, डा. हरविन्द्र शर्मा, डा. नीरा शर्मा, डा. जगमोहन, अैम्‍बाला से मूंजू अरोड़ा, डा. दीपिका वालिया, प्रदीप नटराज ने प्रतिभागियों की कला को परख कर अपना निर्णय लिया। अवार्ड प्रतियोगिता में 25 प्रतिभागियों ने प्रस्तुति दी जिसमें से गायन में दिल्ली से आये प्रणव कुमार, तंत्रवाद्य में बनारस से आये प्रशांत मिश्रा, तालवाद्य से पुणे से आये भागवत चवन, नृत्य के लिये कुरुक्षेत्र से आये सुन्नी कुमार, सुगम संगीत के लिये बनारस से आई स्वाती तिवारी को अवार्ड के रूप में 11 हजार रुपये की नकद राशि दी गई तथा 5100 रुपए का विशेष पुरुस्कार नृत्य के लिये कुरुक्षेत्र से आई करमनदीन कोर को दिया गया। इस अवसर पर समिति की वैबसाईट की भी घोषण की गई। कार्यक्रम में अंजना विनायक, शिव कुमार, डा. आई, पी. आनंद, बी. मदन मोहन, डा. एम. के. सहगल, मिनाक्षी का बोज, अंजू गांधी, नरेन्द्र किशोर, मंजू जैन अमित, विपलव गांधी, रजिन्द्र शर्मा, राकेश शर्मा, हरिन्द्र कुमार, मुकेश का बोज, तनुश्री कश्यप, दिनेश कश्यप, सुनील वोहरा, अशोक अग्रवाल का विशेष सहयोग रहा। इस अवसर पर प्रतिदिन शहर के गणमान्य व्यक्ति अतिथियों के रूप में डा. सौभाग्य वर्धन, नगर निगम मेयर मदन चौहान, कुरुक्षेत्र वि. वि. से डा. सुचिस्मिता शर्मा, डा. के. एन. कपूर, डा. शैलेष कपूर, संजय भसीन आदि उपिस्थत रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here