यमुनानगर के हाॅटल में तबाकू कन्‍ट्रोलर ने तबाकू उत्‍पादों के थोक विक्रेता की ली बैठक

20

मुकन्द लाल जिला नागरिक अस्पताल, यमुनानगर के कॉन्फरेन्स हॉल में आज डॉ. विजय दहिया, कार्यवाहक सिविल सर्जन कम् नॉडल ऑफिसर, तबाकू कन्ट्रोल ने जिला यमुनानगर के हॉटल व रैस्टोरेन्टस के प्रतिनिधियों व  तबाकू उत्पादों के थोक विक्रेता की बैठक ली। इस बैठक में ”जैनरेशन सेवियर एसोसिएशन, मोहाली से जीवनदीप सिंह व संदीप सिंह ने सभी उपस्थित प्रतिनिधियों को पी.पी.टी. प्रेजेन्टेशन के माध्यम से बताया की तबाकू उत्पादों को बेचने से भारत में तथा विशेष कर हरियाणा राज्य में लोगों पर तबाकू का प्रभाव हो रहा है। इस प्रेजेन्टेशन के माध्यम से उन्होनें यह भी बताया की भारत में हरियाणा राज्य तबाकू उत्पादों के प्रयोग व इससे होने वाली बीमारियों में आगे है तथा सरकार द्वारा चलाया जा रहे कार्यक्रम एन.सी.डी. (गैर संक्रमण रोग) के तहत पीडि‍त पाये गये हैं। उन्होने सभी को यह भी बताया की सरकार ने इसके लिये कानून भी बनाये हैं जिसके चलते कानून का उल्लंघन करने पर जुर्माना तथा कैद की सजा भी हो सकती है।  इस अवसर पर डॉ. दहिया ने सभी को  सबोधित करते हुये बताया की हम सभी को समाज के प्रति जागरूक होना चाहिये तथा सभी को तबाकू उत्पादों के प्रयोग को छोडने अथवा कम करने के लिये प्रेरित करना चाहिये। उन्होने सभी से आग्रह किया की सभी उपस्थित लोग तबाकू उत्पादों को बेचने से पहले सुनिश्‍चित करें की वह तबाकू उत्पाद किसी नाबालिग को ना बेचें तथा अपने आस पास इससे सबंधित निर्देशलगाये तथा साथ ही सुनिश्‍चित करें की सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान ना हो व अपने परिसर में किसी स्थान को चिन्हित करें यदि कोई धूम्रपान करना ही चाहे तो वो उस स्थान पर जा कर धूम्रपान कर सके ताकि अन्य किसी को इससे कोई परेषानी ना हो। डॉ. दहिया ने बताया की धूम्रपान करने से केवल धूम्रपान करने वाले व्यक्ति को ही नुकसान नहीं होता बल्कि परिवार के सदस्यों व साथ काम करने वालो पर भी इसका प्रभाव पडता है तथा धूम्रपान से अधिकतर गले का कैन्सर होता है। इसके साथ ही उन्होने यह अपील की कि सभी समाज को धूम्रपान मुक्त बनाने का पूर्ण प्रयास करें तथा अपने आस पास वालों को भी धूम्रपान छोडने के लिये प्रेरित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here