नशा ही सब बुराईयों की जड है: डॉ. ऋषिपाल सैनी

23

रादौर। नशा ही सभी बुराईयों की जड़ है। ऐसे में नशे जैसी बुराई का खात्मा करने के लिए देश के सभी लोगों को आगे आना चाहिएं। समय रहते यदि जनता नशे के विरूद्ध आगे नहीं आई तो इसका भयंकर परिणाम सरकार को भुगतना पड़ेगा। नशे में इंसान भेडियां बन जाता है। जो समाज के लिए घातक साबित होता है। यह शब्द हेमंत सेवा समिति के प्रदेशाध्यक्ष व संस्थापक डॉ. ऋषिपाल सैनी ने कहे। उन्होनें कहा कि नशा ही हर बुराई की जड़ है। जिस घर के अंदर कोई भी व्यक्ति नशा करता है तो उस घर में रहने वाले लोगों के सुख व शांति भंग होती है। इसी प्रकार समाज में नशा करने वाले लोगों से समाज को भी भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। नशा मनुष्य के शरीर व दिमाग दोनों पर गहरा असर डालता है। जिससे मनुष्य भयंकर बिमारियों का शिकार हो जाता है। संस्था ने समाज से नशा छुडवाने के लिए अभियान चलाया हुआ है। जिसके तहत अब तक संस्था की ओर से पिछले 6 वर्षो में प्रदेश के विभिन्न जिलों में 130 से अधिक नशामुक्ति शिविर लगाएं जा चुके है। जिनमें लगभग 35 हजार लोग नशा मुक्ति के लिए आयुवेर्दिक औषधियां निशुल्क दी गई। जिससे हजारों लोग नशे को हमेशा के लिए त्याग चुके है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here