हरियाणा स्कूल एजुकेशन आफिसर्स एसोसिएशन ने की प्रधानाचार्यों की समस्याओं पर चर्चा

140
यमुनानगर। हरियाणा स्कूल एजुकेशन आफिसर्स एसोसिएशन की बैठक यमुनानगर के सरकारी सीनियर सैकेंडरी स्कूल मॉडल टाउन में भूतपूर्व एवं वरिष्ठ प्रिंसिपल राम प्रकाश जी की अध्यक्षता में हुई । सभा का मुख्य एजेंडा  प्रधानाचार्यों की वरीयता सूची सही करने , गृह जिले से बाहर प्रिंसिपलों का ट्रांसफ़र , ज़िला शिक्षाधिकारी के कार्यालय में क़ानूनी सलाहकार का पद सृजित करने तथा जिले की अन्य समस्याओं पर गहन चर्चा करना था । गुरदयाल सिंह प्रधानाचार्य ने कहा कि स्कूल मुखियों को कोर्ट केस की स्थिति में वकीलों से जबाव तैयार कराना पड़ता है और जेब से ख़र्च करना पड़ता है। विभाग न तो इस काम के लिए कोई ग्रांट देता है और न ही स्कूल में ऐसा कोई फ़ंड है । यदि जिले के प्रत्येक शिक्षा मुख्यालय पर क़ानूनी सलाहकार का पद और एक क्लर्क का पद सृजित हो जाए तो सभी मुखियों  को बहुत राहत मिलेगी और वे निश्चिंत होकर स्कूल एवम् शिक्षा की गुणवत्ता की ओर पूर्ण ध्यान दे पाएँगे। ज़िला प्रधान आर एस शर्मा ने कहा कि कुछ प्रिंसिपलों को एक ही पद पर कार्य करते हुए लगभग 12 वर्ष हो गए हैं  जबकि 2002 के प्रिंसिपल पदोन्नत होकर डी ई ओ बन गए हैं लेकिन 2006 के आज भी प्रिंसिपल ही हैं । इसका मूल कारण वरीयता सूची आपत्ति युक्त बनना है। सम्बंधित मुखिया विभाग की इस अनियमितता और शिथिलता से आहत और चिंतित हैं । उन्होंने विभाग से प्रिंसिपलों की सही पदोन्नति करने की पुरज़ोर अपील की । प्रधानाचार्य शिवचरण ने कहा कि जिले में प्रिंसिपलों के 18 पद ख़ाली पड़े हैं अपने जिले के 11 साथी दूसरे जिलों में हैं । इसलिए ट्रांसफ़र ड्राइव खोलकर इन्हें अपने जिले में स्थानांतरित किया जाए । राम प्रकाश ने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि ये सभी माँगें विभाग को पूर्ण करनी चाहिए । इस अवसर पर परमजीत गर्ग , पवन मैहता , नीरज शर्मा . गुरदयाल सिंह . सर्वोदय गोयल , सुरेन्द्र सिंह , पिरथी सैनी . शिवचरण , शशि किरण , राज कुमार धीमान , महेश चंद्र आदि प्रिंसिपल उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here