सोम नदी में उफान, पुल से छूकर गुजरा पानी

689
yamunanagar hulchul__bilaspur mein sab pani pani news som nadi mein ufaan pull se hokar gujra pani
– बिलासपुर में लगातार हो रही बारिश से जल भराव, बत्ती गुल पानी फुल।
– मलिकपुर बांगर रोड़ पर पेड़ गिरने से रोड़ हुआ बंद।
– प्रसााशन ने जे.सी.बी मशीन से खुदाई कर निकाला दूकानों और घरों में घुसा बारिश का पानी।
वीडियो देखने के लिए करें :

यमुनानगर/बिलासपुर। पिछले दो दिन से रूक रूककर हो रही बारिश व सुबह पहाड़ी क्षेत्रों में हुई मूसलाधार बारिश से सोमनदी ,पथराला, सहित अन्य बरसाती नदियां उफान पर आ गई। जिससे आस पास केे गांवों में बाढ़ के पानी का खतरा बढ़ गया। वही सोम नदी के अचानक उफान पर आने से गंाव मलिक पुर के आस पास के लगभग दो सौ एकड़ फसल पानी में जल मगन हेा गई। मलिक पुर के समीप सोम नदी के उफान का पानी मुख्य पुल को छू कर निकल रहा था। सोम नदी के आस पास स्थित गन्ने , धान की फसल पूरी तरह से जल मग्न हो चुकी थी। गांव के नंबरदार ने बताया कि गांव में वीर बहादुर के १२ एकड़, संदीप के ४ एकड़,शांति के ४, देवेन्द्र राणा ५एकड, सप्टर राणा  ५ एकड,विजय पाल ५ एकड सहित लगभग सैकड़ों एकड़ धान व गन्ने की फसल पानी में पूरी तरह से डूब गई। किसानों का कहना है कि अगर जल्द ही सोम नदी का उफान कम नही हुआ तो उनकी फसल पानी में खराब हो जाऐगी। एकड़ से नीचले क्षेत्रों में जल भराव होने से लोगों का जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया। सोमनदी उफान पर रही। कस्ब के छोटा बस स्टैड़ पर पानी निकासी की व्यवस्था समूचित नही होने से दर्जनों दूकानों में पानी भर जाने से दूकानदारों का काफी नूकसान हुआ। कस्बा वासियों का कहना है कि प्रसाशन पीछे से तो सड़क पर खुदाई कर नाले बना रहा है पर छोटा बस स्टैड़ पर पहले से बने बंद पड़े नालों को नही खोले जाने से पानी ओवरफलो होकर दूकानों व पास के घरों में घूस रहा है। प्रसाशन ने आनान फानन में छोटा बस स्टैड़ से गडरिया मौहल्ले में जाने वाली फिरनी को उखाड़ दिया है उखाडऩे के बाद मलबा नही उठाया गया गली से न तो बारिश का पानी निकल पा रहा न ही गली से वाहन निकल पाने के कारण लोगों की मुसिबत पहले से अधिक हो गई है। छछरौली मोड़, शिव चौक, वीटा मिलक प्लाट,धर्मकोट मोड, मिलक खास मोड़ आदि स्थानों पर भी जल भराव होने से लोगों को बहुत असुविधा का समाना करना पड़ा। मारवा कला गांव में भी जल भराव होने से लोगों को परेशानी उठानी पड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here