। हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ ने प्राइवेट संस्थानों में ही जेबीटी के दाखिले कराने के सरकार के फैसले की निंदा की

61
यमुनानगर। हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ संबंधित सर्व कर्मचारी संघ जिला यमुनानगर सरकार के डाइट को दरकिनार कर के प्राइवेट संस्थानों में ही जेबीटी के दाखिले कराने के सरकार के फैसले की कड़े शब्दों में निंदा करता है और मांग करता है कि सरकार निजी करण के इस फैसले को वापस कर सभी संस्थानों में जेबीटी का दाखिला करें और प्राइवेट संस्थानों को ज्यादा से ज्यादा लोगों को लूटने की अनुमति ना दें जेबीटी कोर्स एडमिशन के लिए नई नोटिफिकेशन में 21 सरकारी डाइट संस्थानों को दाखिला न करने को कहा गया है सरकारी स्तर पर 400 विद्यार्थियों को ही केवल 4 बाइट और दो गैटी संस्थानों में ही JBT करवाई जाएगी जबकि जेबीटी के कुल 44244 में से 18196 पद खाली पड़े हैं केंद्र व अन्य राज्यों के स्तर पर भी देश में लाखों पद खाली पड़े हैं केवल 351 निजी कॉलेजों में 19100 सीटों पर ही दाखिल होंगे सरकारी संस्थानों में केवल ₹800 सालाना ही फीस लगती है और प्राइवेट संस्थानों में ₹25800 फीस लगती है सरकार निजी संस्थानों को पैसा कमाने का अवसर प्रदान कर गरीब व मेरिट में आने वाले विद्यार्थियों का हक़ खत्म कर रही है 11व 12 अगस्त की राज्य की मीटिंग में लिए गए निर्णय अनुसार अध्यापक संघ जिला उपायुक्त के माध्यम से प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री सरकार के नाम 16 अगस्त को ज्ञापन भेजेगा यह जानकारी जिला प्रधान राकेश धनखड़ व जिला सचिव जगपाल सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए पत्रकारों को दी।
खंड जगाधरी के प्रधान संजय कंबोज व प्रचार सचिव राम नरेश ने बताया कि विभाग की ओर से जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार सरकारी संस्थान डाइट में सिर्फ स्कूलों में नियुक्त शिक्षकों की ट्रेनिंग कराई जाएगी जेबीटी की ट्रेनिंग नहीं दी जाएगी जबकि JBT का दाखिला करना वह ट्रेनिंग देना इसलिए जरूरी है क्योंकि पंचायतों ने जमीन इन संस्थानों को दी थी कि जहां गांव की बेटियां व लड़कों को दाखिला देने के साथ-साथ केवल JBT की ट्रेनिंग दी जाएगी सरकार पंचायतों व गांव के लोगों के साथ वादाखिलाफी कर रही है हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ के बैनर तले सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में 20 अगस्त को हजारों की संख्या में अध्यापक विधानसभा के घेराव में हिस्सा लेंगे ।मौके पर यशपाल मनीष तंवर संदीप चानना सुरेश लाकड़ा दिनेश कुलदीप कुंडू मनीष सैनी सुशील कुमार प्रीतम सिंह सुरेंद्र शर्मा जिले सिंह राकेश कुमार रजनीश आदि मुख्य नेता मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here