‘घर पर योग और परिवार के साथ योग’ है : कंवरपाल गुर्जर

208

#यमुनानगर_हलचल। हरियाणा के शिक्षा मंत्री  चौधरी कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि गीता में भगवान कृष्ण ने योग की व्याख्या करते हुए कहा है-‘योगः कर्मसु कौशलम्’ अर्थात्, कर्म की कुशलता ही योग है. कोरोना के मद्देनजर आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस बिना लोगों के बड़े जमावड़े के डिजिटल मीडिया मंचों पर मनाया जा रहा है. योग दिवस दुनियाभर में पहली बार 21 जून 2015 को मनाया गया और तब से हर साल इस दिन को योग दिवस के तौर पर मनाया जाता है. लेकिन यह पहला मौका है जब इसे डिजिटल तरीके से मनाया जा रहा है. इस साल की योग दिवस की थीम ‘घर पर योग और परिवार के साथ योग’ है..

”अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का ये दिन एकजुटता का दिन है, ये विश्व बंधुत्व के संदेश का दिन है. जो हमें जोड़े, साथ लाये वही तो योग है. जो दूरियों को खत्म करे, वही तो योग है. कोरोना के इस संकट के दौरान दुनिया भर के लोगों का My Life-My Yoga वीडियो ब्लॉगिंग कंपटीशन में हिस्सा लेना, दिखाता है कि योग के प्रति उत्साह कितना बढ़ रहा है.” उन्होंने कहा कि ”बच्चे, बड़े, युवा, परिवार के बुजुर्ग, सभी जब एक साथ योग के माध्यम से जुडते हैं, तो पूरे घर में एक ऊर्जा का संचार होता है. इसलिए, इस बार का योग दिवस, भावनात्मक योग का भी दिन है, हमारी Family Bonding को भी बढ़ाने का दिन है.”

#YamunanagarHulchul #Yamunanagar_Hulchul #यमुनानगरहलचल #यमुनानगर_हलचल Visit us at https://www.yamunanagarhulchul.com/

Leave a Reply