गृह प्रदेशों में जाने के इच्‍छुक प्रवासी मजदूरों के लिए खबर

994
yamunanagar hulchul यमुनानगर हलचल buses for migrants labour to their destinations
यमुनानगर। उपायुक्त मुकुल कुमार ने स्पष्ट किया है कि जो प्रवासी मजदूर अपने गृह प्रदेशों में जाना चाहते है उनके लिए जिला प्रशासन द्वारा विशेष प्रबंध किए गए है। प्रवासी मजदूरों को उनके गृह प्रदेशों में बसों व रेलोंं द्वारा पूरी सुविधा के साथ भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोई भी प्रवासी मजदूर यदि अपने गृह प्रदेश जाना चाहता है तो जिला में बनाए गए शैल्टर होमस-जगाधरी-छछरौली मार्ग पर गांव मानकपुर के नजदीक लक्कड़ मण्डी या तेजली खेल स्टेडियम आए और वहां से उन्हें बस या रेलगाड़ी द्वारा उनके गृह प्रदेश में भेजा जा रहा है तथा उनके रास्ते की सुविधाओं का भी प्रबंध किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि श्रमिकों को रास्ते के लिए भोजन, पानी, फेस मास्क व सैनिटाइजर आदि की सुविधाएं प्रदान की जा रही है।
उपायुक्त मुकुल कुमार ने बताया कि आज लक्कड़मण्डी मानकपुर से लगभग 30 बसें पिलखनी जिला सहारनपुर (उत्तरप्रदेश) के लिए प्रवासी मजदूरों को लेकर रवाना हो रही है जिनमें से आज 17 मई 2020 को दोपहर 12 बजे तक 15 बसे पिलखनी (उत्तरप्रदेश) के लिए रवाना हो गई है और हर बस में सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए केवल 35 प्रवासी मजदूरों को भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि  अब तक जिला यमुनानगर से 8193 प्रवासी श्रमिकों एवं छात्रों को विभिन्न प्रदेशों जैसे -बिहार, उत्तर प्रदेश, लद्दाख, जम्मू कश्मीर, उत्तराखण्ड, पश्चिमी बंगाल आदि प्र्रदेशों में  हरियाणा सरकार के आदेशानुसार बसों व रेल के माध्यम से नि:शुल्क भेजा गया है। उन्होंने बताया कि सभी व्यक्तियों को कोविड-19 के मापदंडों के तहत स्क्रीनिंग करके भेजने का काम किया जा रहा है व सभी श्रमिकों की स्वास्थ्य जांच करने के उपरांत ही श्रमिकों को उनके गृह प्रदेश भेजा जा रहा है।

Leave a Reply