आयुष्मान भारत योजना के तह‍त गोल्डन कार्ड की सूची में यमुनानगर का रहा प्रथम स्‍थान

19

यमुनानगर। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना – आयुष्मान भारत योजना के तहत जिला यमुनानगर को राज्य में मिला प्रथम स्थान। डॉ. विजय दहिया, चिकित्सा अधीक्षक मुकन्द लाल जिला नागरिक अस्पताल, यमुनानगर कम् नॉडल ऑफिसर, आयुष्मान भारत, यमुनानगर ने बताया की अब आयुष्मान भारत योजना के तहत अब तक मरीजों को लाभ पहुॅचाने की श्रेणी में जिला यमुनानगर प्रथम पायदान पर था परन्तु अब विभाग द्वारा जारी गोल्डन कार्ड बनाने की सूची में भी जिला यमुनानगर पहले नबर पर आया है। अब तक जिला यमुनानगर में 16 हजार से ज्यादा कार्ड बन चुके हैं तथा करनाल 12,172 गोल्डन कार्ड बना कर दूसरे स्थान पर व हिसार 11,274 गोल्डन कार्ड बना कर तीसरे स्थान पर हैं। डॉ. दहिया ने बताया कि योजना के तहत जिला यमुनानगर में 92000 से भी अधिक परिवारों को स्वास्थ्य लाभ देने का उद्देश्य है तथा इस योजना के तहत भारतीय नागरिकों को सार्वजनिक तथा निजी अस्पतालों द्वारा नकदी-रहित उपचार की सुविधा प्रदान की जा रही है तथा अब तक मुकन्द लाल जिला नागरिक अस्पताल, यमनानगर में 107 मरीजों को व उप-जिला नागरिक अस्पताल, जगाधरी द्वारा लगभग 63 मरीजों को आयुषमान योजना के तहत पंजीकृत कर ईलाज किया जा चूका है तथा लगभग 100 से अधिक मरीजों को निजी अस्पतालों द्वारा ईलाज योजना के तहत निशुल्क किया गया है। यमुनानगर जिले में अभी तक 14 निजी अस्पतालों को आयुष्मान भारत योजना के तहत पंजिकृत किया जा चूका है। जो कि गोल्डन कार्ड बनाने के साथ साथ मरीजों का निशुल्क उपचार भी कर रहे हैं।  डॉ. विजय दहिया ने यह भी बताया की आयुष्मान भारत योजना के तहत दो प्रक्रियाओं में काम होता है, इसके तहत पहले चरण में सूचीबध लाभार्थीयों के गोल्डन कार्ड बनाये जाते हैं, जिससे कि वह आने वाले समय में किसी भी सरकारी व पंजीकृत निजी स्वास्थ्य संस्थान में जा कर इस योजना के तहत निशुल्क स्वास्थ्य सेवायें प्राप्त कर सके तथा दूसरे चरण में गोल्डन कार्ड धारक मरीज को अस्पताल में भर्ती कर व योजना के तहत पंजीकृत कर निशुल्क स्वास्थ्य सेवायें प्रदान की जाती हैं। डॉ. दहिया ने यह भी बताया की मुकन्द लाल जिला नागरिक अस्पताल, यमुनानगर व उप-जिला नागरिक अस्पतला, जगाधरी में न केवल आयुष्मान काउन्टर पर गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे हैं बल्कि अस्पताल में भर्ती मरीजों में से आयुष्मान भारत लाभार्थियों को खोजने का काम आयुष्मान मित्रों द्वारा किया जा रहा है तथा साथ ही सी.एच.सी. सढौरा में भी गोल्डन कार्ड बनाने का कार्य आर भ हो चूका है ताकि आम-जन को गोल्डन कार्ड बनवाने ज्यादा दूर ना आना पडे। मुकन्द लाल जिला नागरिक अस्पताल, यमुनानगर में भर्ती मरीज अफसा तथा रूबी रानी ने बताया की वह अस्पताल में भर्ती थे तथा आयुष्मान मित्रों द्वारा उन्हे आ कर आयुष्मान भारत योजना के बारे में बताया तथा उनका गोल्डन कार्ड बनवा कर ईलाज भी योजना के तहत निशुल्क करवाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here