सडक़ हादसे में घायल सैनिक की मौत, पैतृक गांव भोगपुर में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

14
यमुनानगर /साढौरा। जून माह में सडक़ हादसे में घायल हुए गांव भोगपुर के सैनिक 33 वर्षीय सरदूल सिंह की उपचार के दौरान मौत हो गई। गुरुवार को उसके पैतृक गांव में गमगीन माहौल में उसका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। सरदूल सिंह जाट रेजिमेंट की 18 बटालियन में नायब सूबेदार के पद पर था। तिंरगे में लिपटे पार्थिव शरीर को देखकर हर एक की आंखे नम थी। 36 मिडीयम बटालियन के कैप्टन सुरजीत सिंह, सूबेदार प्रदीप नेवगी व हवलदार सूर्यकांत के अलावा सैनिक जवानों ने सरदूल सिंह को सशस्त्र सलामी दी। जानकारी के अनुसर सडक़ हादसे के समय वह नासिक में तैनात था। उसके परिवार में पत्नि के अलावा 11 वर्षीय बेटा यश है। यश ने सरदूल के शव को मुखाग्री दी। सरदूल के अंतिम संस्कार के अवसर पर उसकी बटालियन के नायब सूबेदार सुखबीर ने बताया कि सरदूल सिंह बहुत साहसी था। उसके निधन से उसके तमाम साथी बहुत दुखी हुए हैं। इस मौके पर सरदूल के परिजनों के अलावा जाट बटालियन के नायक राजकुमार,अमित, लांस नायक राजेश व सिपाही रोहित व जिला परिषद उपाध्यक्ष अनिल मोंटी भी उपस्थित थे।
रिपोर्ट : शिवम अग्रवाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here