जिले में बिना लाइसैंस के चल रहे है प्रोपर्टी डिलिंग का धंधा

20
रादौर। जिले मेेंं सैकडों की संख्या में प्रोपर्टी डीलर अवैध रूप से प्रोपर्टी डिलिंग का धंधा करके सरकार को हर वर्ष करोडों रूपए का चुना लगा रहे हैं। जिले के हर ब्लॉक में प्रोपर्टी की खरीद फरोख में अनगिणत लोग प्रोपर्टी डीलर बनकर बैठे हुए है। जिनके पास प्रोपर्टी डिलिंग के लिए कोई लाईसेैंस नहीं है। राजस्व विभाग के अधिकारियों को मामलें की जानकारी होने के  बावजूद अवैध रूप से प्रोपर्टी डिलिंग का धंधा करने वाले लोगों के विरूद्ध आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिस कारण जिलें में लाईसैंस लेकर प्रोपर्टी डिलिंग का धंधा करने वाले प्रोपर्टी डीलरों में भारी रोष है। समाजसेवी व प्रोपर्टी डीलर गांव नाचरौन निवासी डॉ लाभसिंह व राणा भागसिंह पालेवाला ने बताया कि जिले के हर ब्लॉक में अवैध रूप से प्रोपर्टी डिलिंग करने वाले लोगों की भरमार है। लेकिन पुरे जिलें में लगभग 62 लोगों ने ही सरकारी फीस जमा करवाकर प्रोपर्टी डिलिंग का लाईसैंस बनवाया हुआ है। प्रोपर्टी डिलिंग का लाईसैंस लेने के लिए 25 हजार रूपए की फीस 5 वर्ष के लिए देनी पडती है। इसके अलावा जमीन जायदाद का पुरा ब्यौरा देने के साथ साथ लाईसंैस लेने वाले व्यक्ति को अपने संबंधित थाना व तहसील से एनओसी लेनी पडती है। जिसके बाद प्रशासन प्रोपर्टी डिलिंग का लाईसंैस जारी करती है। लेकिन अवैध रूप से इस धंधे से जुडे लोग लाईसैंस लिए बिना ही प्रोपर्टी डिलिंग का धंधा शुरू कर देते हैं। आलम यह हो गया है कि नाई, हलवाई, मिस्त्री, दर्जी, चायवाला, मोची, सब्जीवाला, परचूनवाला, मैडिकल स्टोर वाला, डॉक्टर के अलावा लगभग हर विभाग का कर्मचारी चोरी छिपे प्रोपर्टी डिलिंग के धंधे से जुडे हुए है। अवैध रूप से हो रहे प्रोपर्टी डिलिंग के धंधे से सरकार को हर वर्ष एक से दो करोड रूपए का चुना लग रहा है। डॉक्टर लाभसिंह ने बताया कि प्रोपर्टी डिलिंग का धंधा कर रहे लोग मार्कीट में सरेआम कार्यालय खोलकर बैठे हुए है। कार्यालय के बाहर ऐसे लोगों ने प्रोपर्टी एडवाईजर के बोर्ड लगाकर सरकार व प्रशासन की आंखों में धूल झौंकने का काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अवैध रूप से प्रोपर्टी डिलिंग का धंधा करने वाले लोगों के कारण आज प्रोपर्टी की खरीद फरोख में भारी घपला हो रहा है। झूठे कागजातों के आधार पर फर्जी ब्याने तैयार करके घपले किए जा रहे हैं। जिसके लिए अवैध रूप से प्रोपर्टी डिलिंग कर रहे लोग जिम्मेवार है। लाईसैंसधारी प्रोपर्टी डीलरों ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर को पत्र भेजकर अवैध रूप से प्रोपर्टी डिलिंग का काम करने वाले लोगों के विरूद्ध मामला दर्ज करने की गुहार लगाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here