सरकार व प्रशासन के अधिकारियों से महिलाओं ने दो बसे रादौर से यमुनानगर तक शुरू करने की रखी मांग

5

रादौर। रादौर से यमुनानगर तक लड़़कियों के लिए कोई बस सुविधा न होने से क्षेत्र की लड़कियों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। मजबुरन क्षेत्र की लडकियों को खचाखच भरी बस में सफर करने के लिए मजबुर होना पड रहा है। जिससे क्षेत्र की लडकियां व उनके अभिभावक बेहद परेशान है। कुछ समय पहले तक रोडवेज की ओर से क्षेत्र की लडकियों के लिए रादौर से यमुनानगर आने व जाने के लिए विशेष रूप से बस सेवा लगाई हुई थी। लेकिन कुछ महीने पहले यह बस सेवा बंद कर दी गई है। जिससे क्षेत्र की शिक्षण संस्थाओं में पढने वाली लडकियों को बस सेवा बंद होने से भारी दिक्कत का सामना करना पड रहा है। रादौर निवासी कमल अरोडा, रीतू देवी, अवनी, रीया, बेबी, चंचल, आंचल, नीरू, नव्या ने बताया कि वह शिक्षा ग्रहण करने के लिए रादौर से यमुनानगर जाती है। इसी प्रकार उनकी तरह हर रोज सैकडों लडकियां व महिलाएं यमुनानगर शिक्षा ग्रहण करने व डयूटी पर जाती है। रादौर में लडकियों व महिलाओं के लिए कोई बस सेवा नहीं है। जिस कारण बसों में होने वाली भीड से उन्हें भारी दिक्कत उठानी पडती है। भीड मेे लडकियों व महिलाओं को छेडछाड की घटनाओं का भी सामना करना पड रहा है। रोडवेज की ओर से महिलाओं के लिए चलाई गई बस सेवा बंद किए जाने से उन्हें दिक्कत उठानी पड रही है। रादौर क्षेत्र की महिलाओं व लडकियों ने सरकार व प्रशासन के अधिकारियों से मांग की है कि उनके लिए रादौर से यमुनानगर तक कम से कम दो बसे विशेष रूप से शुरू की जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here