*एन सी सी के स्वयंसेवकों ने सीखा खाद बनाना*

50
साढौरा। स्थानीय डी ए वी कॉलेज साढौरा में एन सी सी कैडेट्स के द्वारा कंपोस्ट खाद बनाने के लिए अभियान चलाया गया। इस अवसर पर कॉलेज के एन सी सी अधिकारी कैप्टन अंकेश्वर प्रकाश ने कैडेट्स को कंपोस्ट खाद बनाने के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि घरों से निकलने वाले गीले कचरे जिनमे फल व सब्जियों के छिल्के, सूखे पत्तों इत्यादि को अपने गांव के बाहर एक बड़े से खड्डे में एकत्र करके उसमें पानी मिलाकर सड़ने देते है। लगातार कई दिनों तक सड़ने के बाद उसमें यदि केचुएं मिला दिए जाएं तो जो खाद तैयार होती है वह जमीन की उर्वरा शाक्ति को बहुत ज्यादा बढ़ा सकती है। आज के दौर में जब रासायनिक उर्वरकों के प्रयोग से कैंसर जैसी भयानक बीमारियां निरंतर बढ़ रही हैं, इस प्रकार बनाई गई जैविक खाद न केवल फसलों के लिए लाभकारी होगी बल्कि मनुष्यो के स्वस्थ्य के लिए भी लाभकारी होगी। इस अवसर पर कॉलेज के प्राचार्य डॉ रणपाल सिंह ने कैडेट्स द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान की प्रशंसा की। उल्लेखनीय है कि एन सी सी इस समय 15 सितंबर से शुरू हुए स्वच्छता है सेवा अभियान को बहुत हो जोर शोर से चला रही है। इस अवसर पर 14 हरियाणा एन सी सी बटालियन से सी एच एम अजय सिंह विशेष रूप से उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here