खिजराबाद की रामलीला में भरत और राम लक्ष्मण मिलाप का मंचन

46
छछरौली। श्री रामनवमी दशहरा उत्सव कमेटी खिजराबाद की ओर से आयोजित रामलीला में भरत और राम लक्ष्मण मिलाप का मंचन किया गया। श्री राम को चौदह वर्ष का बनवास काट रहे हैं और जंगल जंगल घूम रहे हैं। तभी अयोध्या में भरत के पास संदेश पहुंचता है कि उनके भ्राता श्री राम चित्रकूट के घाट पर विश्राम कर रहे हैं और वहां पर उनकी भेंट उनके भ्राता से हो सकती है। इतना सुनकर अयोध्या से भरत श्री राम से मिलने पहुंच जाते हैं और श्री राम से मिलकर वे भावुक हो जाते हैं। भरत से मिलने के बाद श्री राम भी भावुक हो जाते हैं और अयोध्या का हाल चाल पूछते हैं। भरत श्री राम को अयोध्या का हाल सुनाते हैं और श्री राम को अयोध्या जाने के लिए कहते हैं लेकिन श्री राम भरत के इस आग्रह को ठुकरा देते हैं। श्री राम से मिलते ही भरत श्री राम के खडग अपने सिर पर उठा लेते हैं और उनका आर्शीवाद लेते हैं। इतना कहकर श्री राम,लक्ष्मण और सीता वनवास के दौरान अपनी आगे की यात्रा पर चल पडते हैं।
रिपोर्ट : गुरजीत सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here