पिछडे समाज के उत्‍थान के लिए नहीं हुए गंभीरता से प्रयास : पूर्व डीजीपी प्रथ्‍वीराज सिंह

372

समाज के उत्‍थान के लिए प्रयासरत है पूर्व डीजीपी
समाज को शिक्षित और संगठित करने का उठाया है बीडा
यमुनानगर। आजादी के बाद से अब तक दलित और आर्थिक तौर से पिछडे समाज के उत्‍थान के लिए कागजों पर तो ढेरों योजनाएं बनाई गई, लेकिन धरातल पर इनका क्रियान्‍वयन पूरी ईमानदारी से नहीं किया गया। आज भी इस समाज को महज वोट बैंक के रूप में ही इस्‍तेमाल किया जा रहा है। यह कहना है कि हिमाचल प्रदेश के पूर्व डीजीपी प्रथ्‍वीराज सिंह का। रिटायरमेंट के बाद वह समाज को शिक्षित और संगठित बनाने में जुुटे हुए है। साथ ही भारतीय समाजिक न्‍याय पार्टी के साथ भी जुडे है। उनका मानना है कि आज सत्‍ता हासिल करने के लिए राजनीतिक दलों में किसानों के लोन माफ करने की होड मची हुई है जो कि सस्‍ती लोकप्रियता हासिल करने का हथकंडा मात्र है। समाज और देश की व्‍यवस्‍थाओं तथा भारतीय समाजिक न्‍याय पार्टी के बारे में पूर्व डीजीपी ने यमुनानगर हलचल से विस्‍तार से बात की। आइए सुनते हैं उनके विचार ……

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here