डीएवी गल्र्स कॉलेज में महात्मा गांधी व लाल बहादुर शास्त्री को दी गई श्रद्धांजलि

79

यमुनानगर। महात्मा गांधी की १५०वीं जन्मशती के अवसर पर डीएवी गल्र्स कॉलेज में गांधी स्टडी सेंटर द्वारा महात्मा गांधी व देश के प्रथम प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी को कॉलेज प्रिंसिपल डा. विभा गुप्ता तथा स्टाफ सदस्यों द्वारा श्रद्धांजलि अर्पित की गई। साथ ही छात्राओं से अहिंसा व शांति के पुजारी महात्मा गांधी जी द्वारा बताए गए मार्ग पर चलने का आह्वान किया गया। साथ ही हॉल में स्टाफ सदस्यों व छात्राओं को शपथ दिलवाई। उन्होंने कहा कि हम सभी विश्व में सद्भावना, प्रेम, भाईचारा, अहिंसा एवं शांति के उन्नयन के लिए कार्य करेंगे। किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं करेंगे। अपने आसपास के वातावरण को स्वच्छ रखेंगे।
डा. गुप्ता ने कहा कि गांधी जी द्वारा दिए गए सत्याग्रह, अहिंसा इत्यादि सिद्धांतों की मान्यता को आज पूरे विश्व ने माना है। लेकिन हमारा युवा वर्ग अपनी संस्कृति और इतिहास से दूर होता जा रहा है। युवा वर्ग के महान दार्शिनिक और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी से जीवन प्रेरणा लेनी चाहिए। गांधी जी द्वारा दिए गए सामाजिक सिद्धांत कि प्रासांगिता न केवल भारत, बल्कि पूरे विश्व के लिए है। गांधी जी की प्रासांगिता आज के युग में इतनी है कि विश्व की सबसे बड़ी संस्था संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी दो अक्टूबर गांधी जयंती को विश्व शांति दिवस के रूप में घोषित किया है। जिसके अंतर्गत गांधी जी के विचारों को न केवल भारत में, बल्कि पूरे विश्व में याद किया जाता है। आज विश्व की सबसे बड़ी समस्या युद्ध और हिंसा है। इन समस्याओं का समाधान गांधी जी के सत्य, अहिंसा और सत्यग्रह के द्वारा ही किया जा सकता है। मौके पर डा. विश्वप्रभा, डा. किरण शर्मा, डा. आशा बजाज, डा. गुरशरन, डा. दीपिका घई, डॉ. सुरेंद्र कौर, डा. मीनाक्षी सैनी, डॉली लांबा, सुनामिका, योगिता सहित अन्य स्टाफ सदस्य उपस्थित रहें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here