छात्राओं को बताए जीएसटी के फायदें

19

यमुनानगर। डीएवी गल्र्स कॉलेज के वाणिज्य विभाग द्वारा गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी ) विषय पर स्पेशल लेक्चर का आयोजन किया गया। जिसमेें विभाग की प्राध्यापिका रितिका चोपड़ा व पूजा आनंद ने प्रथम वर्ष की छात्राओं जीएसटी के फायदों के बारे विस्तार से जानकारी दी। कॉलेज की कार्यवाहक प्रिंसिपल डा. विभा गुप्ता तथा वाणिज्य विभागाध्यक्षा डा. सुरिंद्र कौर ने संयुक्त रूप से कार्यक्रम की अध्यक्षता की।
रितिका ने कहा कि जीएसटी से पहले केंद्र व राज्य सरकार द्वारा सामान पर कई तरह के अलग-अलग कर (टैक्स) लगाए जाते थे। लेकिन जीएसटी के लागू होने से सभी तरह के समानों पर एक जैसा ही कर लगाया जाता है। उन्होंने बताया कि जीएसटी एक पारदर्शी एवं भ्रष्टाचार मुक्त कर है। इससे आर्थिक विकृतियां दूर हुई है। साथ ही राष्ट्रीय बाजार के विकास में सहायक सिद्ध हुआ है!
पूजा आनंद ने छात्राओं को जीएसटी टैक्स दरों की स्लैब के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि विभिन्न सामानों के हिसाब से उन पर ५, १२, १८ व २८ प्रतिशत के हिसाब से जीएसटी लगाया जाता है। साथ ही उन्होंने उपरोक्त स्लैब्स के तहत आने वाले सामान के बारे में भी जानकारी दी। जीएसटी में चार तरह के टैक्स शामिल किए जाते हैं। जिसमें सीजीएसटी, एसजीएसटी, आईजीएसटी व यूजीएसटी शामिल है। साथ ही छात्राओं को किन-किन सामान पर टैक्स नहीं लगता, उसके बारे में भी जानकारी मुहैया करवाई।
डा. सुरिंद्र कौर ने कहा कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य छात्राओं को जीएसटी के बारे में नॉलेज प्रदान करना रहा। जीएसटी भारत की अर्थव्यवस्था को एक देश एक टैक्स वाली अर्थव्यवस्था बना देगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here