बसों की कमी ने बेटियाें को सडक जाम करने के लिए किया मजबूर

568
घाड क्षेत्र में बसों की कमी
बसोें की कमी के चलते छात्राएं बस की खिडकी पर लटक कर करती है सफर 
बसो में भीड की वजह से छात्राएं व महिलाओं को झेलनी पड रही है भारी दिक्कत
यमुनानगर/छछरौली। शेरपुर डारपुर सडक मार्ग पर बसों की भारी कमी के चलते नाराज छात्र छात्राओं ने सलेमपुर गांव के बस स्टाप पर सडक के बीच बैठकर जाम लगा दिया। करीब दो घंटे तक जाम लगने की वजह से आवाजाही बंद रही। मौके पर पहुंचे रोडवेज इंस्पेक्टर व थाना प्रभारी के आश्वासन के बाद छात्राों ने जाम खोला। सडक मार्ग पर जाम लगाकर बैठे छात्र छात्राओं ने बपनी मांग रखते हुए कहा कि छछरौली के घाड क्षेत्र में काफी दिनों से बसों की भारी किल्लत चल रही है। रूट पर दो बसें चल रही है जो कि क्षेत्र से आने वाले बच्चों के लिए काफी नही है। जिसके लिए छात्र कई बार रोडवेज अधिकारियों से ज्ञापन भी दे चुके है।
उसके बावजूद भी मार्ग पर बसों की संख्या में बढोतरी नही हो रही है। इसके साथ क्षेत्र की छात्राएं भी काफी समय से मार्ग पर केवल महीलाएं बस सर्विस चलाने की मांग कर रही थी। बस में भीड हाने की वजह से छात्राओं को ज्यादा परेशानी उठानी पड रही थी। जिसके चलते छात्राएं बस की खिडकी पर लटक कर सफर करती थी। इस दौरान कई बार छात्राएं गिरकर घायल भी हो चुकी थी। अधिकारियों से बार बार आग्रह करने पर भी रूट की बस सर्विस में ना सूधार हो रहा था ना ही केवल महीलाएं बस सर्विस चल सुबह स्कूल के समय चल रही थी।
 जिसके कारण क्षुब्ध छात्र छात्राओं ने शेरपुर डारपुर सडक मार्ग पर सलेमपुर गांव के पास सुबह के समय सडक पर बैठकर रोडवेज विभाग के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। नारेबाजी के दौरान छात्रों का कहना था कि रोडवेज विभाग बस पास तो जारी कर रहा है। पर स्कूल के समय बस सर्विस नही देता जिससे स्कूली बच्चे बस पास बनवाकर भी प्राइवेट वाहनों में किराया भरकर स्कूल आना जाना कर रहें है। जाम की सूचना पाकर थाना छछरौली प्रभारी व रोडवेज इंस्पेक्टर मौके पर आएं ओर रोडवेज इंस्पेक्टर सपताल ने छात्र छात्राओं को आश्वासन दिया कि कल से सुबह सात बजे केवल महिलाएं बस व रूट पर बसों की संख्या बढाई जाऐगी।
तब जाकर छात्रों का गुस्सा शांत हुआ ओर छात्र सडक से हटने को तैयार हुए। उसके बाद सडक मार्ग पर आवाजाही शुरू हुई। रोडवेज इंस्पेक्टर सपताल ने बताया कि बच्चों की मांग पर सुबह सात बजे व दोपहर के समय केवल महीलाएं बस सर्विस व रूट पर बसों की संख्या बढाने की मांग स्वीकार कर बस सर्विस शुरू कर दी है। ओर भविष्य में बच्चों को परेशानी नही होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here