52

रादौर। जनता की मांग पर सरकार 1 नवंबर से दामला टोल टैक्स को हमेशा के लिए खत्म करने जा रही है। वहीं उत्तरप्रदेश व हरियाणा को जोडने के लिए रादौर क्षेत्र में यमुनानदी के नगली घाट पर 104 करोड रूपए की लागत से सरकार प्रदेश में आठवां पुल बनाएगी। पुल बनने से दोनों राज्यों के लोगों को भारी लाभ मिलेगा। रादौर क्षेत्र के 15 गांवों में अंबेडकर भवन बनाने के लिए दो करोड, शहर में मिनी सचिवालय बनवाने के लिए 20 करोड,  रादौर से जठलाना मार्ग को चौडा करने के लिए 10 करोड रूपए की ग्रांट राशि मंजूर की गई। रादौर क्षेत्र के 120 कच्चे रास्तों को पक्का करने के लिए 10 करोड रूपए की ग्रांट राशि मंजूर की गई है। यह शब्द प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने रविवार को रादौर विधानसभा क्षेत्र के गांव दामला में आयोजित जन विश्वास रैली को संबोधित करते हुए कहे। रैली का आयोजन हल्का रादौर विधायक श्यामसिंह राणा की ओर से किया गया था। रैली में लगभग 10 हजार से अधिक लोगों ने भाग लिया। मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने कहा कि जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों के विकास के लिए अब तक 1500 करोड रूपए से अधिक की ग्रांट राशि खर्च की जा चुकी है। प्रदेश में 600 अवैध कालौनियों को नियमित किया गया है। जिनमें से 68 कालौनियां जिला यमुनानगर के अलग अलग हल्कों की है। जिन पर सरकार 60 करोड रूपए की ग्रांट राशि से विकासकार्य करवाएगी। हल्का रादौर विधायक श्यामसिंह राणा की ओर से मुख्यमंत्री के समक्ष 54 कार्यों की सूची दी गई। जिन्हें मुख्यमंत्री ने मंजूर किया। मुख्यमंत्री ने दामला हाईवे से रादौर तक के सडक मार्ग को फोरलाईन करने की घोषणा की। इसके अलावा मार्कीटींग बोर्ड की रादौर क्षेत्र में 8 सडकों के निर्माण पर चार करोड रूपए की राशि खर्च की जाएगी। क्षेत्र के 6 राक्षी नदी के पुलों के निर्माण के लिए 2 करोड रूपए मंजूर किए गए। वहीं 43 अन्य कार्यों के लिए मुख्यमंत्री ने 20 करोड रूपए की धनराशि मंजूर की। जबकि नगरपालिका की ओर से रखी गई सभी मांगो को मुख्यमंत्री ने पुरा करते हुए करोडों रूपए की राशि मंजूर की। मुख्यमंत्री ने कहा कि कैत से कलानौर तक भाजपा सरकार ने हाईवे बनाने के लिए 700 करोड रूपए खर्च किए है। उन्होंने कहा कि सरकार के बकाया एक वर्ष में अन्य बची मांगों को सरकार पुरा करने का काम करेंगी। उन्होंने कहा कि सरकार ने जीएसटी लगाकर व्यापारियों को राहत पहुंचाई है। जीएसटी लगने के बाद अब व्यापारी चैन की नींद सोता है। चार वर्ष पहले प्रदेश का बजट मात्र 61 हजार करोड रूपए का था। लेकिन अब भाजपा सरकार में यह 1 लाख 15 हजार करोड रूपए का हो गया है। प्रदेश सरकार सभी गांवों में बने शमशान घाटों व कब्रिस्तानों के रास्ते अगले 6 महीनों में पक्के करने जा रही है। जिसका 40 प्रतिशत कार्य पुरा हो चुका है। इस पर कुल 700 करोड रूपए खर्च किए जाएंगे। प्रदेश के 14 हजार तालाबो की मुरम्मत का कार्य करवाने के आदेश दिए गए है। प्रदेश के अधिकतर तालाब ओवरफ्लो हो चुके है और कुछ सुख पडे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने भ्रष्टाचार को दूर करने के लिए पंचायतों में पढे लिखे लोगों  को ही चुनाव लडने का कानून पास किया है। जिससे भ्रष्टाचार दूर हुआ है। घुमंतु जाति के विकास के लिए बोर्ड बनाया गया है। बिजली के बिल माफ कर जनता को राहत पहुंचाई गई है। गावं में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य देने के लिए व्यायामशालाएं बनवाई गई है। अब तक 700 से अधिक व्यायामशालाएं बन चुकी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने सीएम विंडों के माध्यम से तीन वर्ष में 3 लाख 71 हजार लोगों की समस्याओ को दूर किया है। पहले सरकारी विभागों में बदली करवाने के नाम पर जमकर भ्रष्टाचार होता था। लेकिन अब ऐसा नही है। कांग्रेस के मुकाबले भाजपा ने 10 गुणा विकास किया है। पहले कांग्रेस सरकार में विकास के नाम पर केवल पत्थर लगाने का काम किया जाता था। लेकिन भाजपा सरकार में पत्थर लगते ही विकास कार्य शुरू हो जाते है। भाजपा ने स्वच्छ भारत अभियान चलाकर देश को स्वच्छ बनाने का काम किया है। आज अभियान के कारण देश में 90 प्रतिशत लोगों ने खुले में शौच करना बंद कर दिया है। सरकार ने ई रिर्टन प्रणाली लागू कर व्यापारियों को राहत पहुंचाई है। पहले नए उद्योग लगाने के लिए 70, 80 प्रकार के कार्य व्यापारियों को करने पडते थे। अब ऐसा नहीं है। व्यापारी नए उद्योग के लिए 30 दिन में आसानी से लाईसेंस ले सक ते है। यमुनानगर में प्लाईवुड उद्योग के लिए सरकार ने सैकडों लोगों को नए लाईसेंस जारी किए है। सरकार ने 350 स्कीमों को जनता तक पहुंचाने के लिए अंत्योदय भवन बनाए है। जिनमें किसानों, मजदूरों, व्यापारियों व अन्य वर्ग के लोगों को इन योजनाओं के बारे में जानकारी दी जा रही है।इस अवसर पर मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने यमुनानदी पर बनने वाले पुल का रैली स्थल पर शिलान्यास किया। इस अवसर पर सांसद रतनलाल कटारियां, विधायक श्यामसिंह राणा, विधायक बलवंतसिंह सढौरा, विधायक घनश्यामदास, स्पीकर कंवरपाल गुर्जर, जिला प्रधान महिन्द्र खदरी, मंडल प्रधान विनोद सिंगला, राजकुमार शर्मा, शालू मेहता, प्रदीप राणा, रोशनलाल सैनी, भगवतदयाल कटारिया, विनीश राणा, अर्जुन पंडित, एमसी राजन पासी, रोहित अरोडा के अलावा प्रशासन के सभी अधिकारी मौके पर मौजूद थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here